स्वागत

ब्लाग पर आने पाठकों के विचारों एवं सुझावों का स्वागत है.
"अयं निज : परोवेति गणना लघु चेतसाम् । उदार चरितानां तु वसुधैव कुटुम्बकम॥"

08 जून 2010

नहले पर दहला

Blogvani.com

पति -हर सफल पुरूष के पीछे एक स्त्री होती है.
पत्नि (चिढकर)-हां, और यह भी जान लो हर असफल स्त्री के पीछे एक पुरूष होता है.

4 टिप्‍पणियां:

आपकी मूल्यवान टिप्पणियाँ हमें उत्साह और प्रेरणा प्रदान करती हैं .आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है.(सच तो यह है कि टिप्पणी प्रेमी/प्रेमिका की तरह है, जब भी दीदार हो, अच्छा लगता है.)